प्रधान मंत्री ग्रामीण कल्याण अन्न योजना की अवधि में वृद्धि - रानू भोगल का संदेश


Download Audio

Source/Reference :- GoI - F.No. 7-1/2019-BP.III(Pt.)[371225]

Date : 22/07/2020


प्रिय भाईयो और बहनों,
नमस्कार। मैं ऑक्सफैम इंडिया की निदेशक (director) रानू भोगल बोल रही हूं।

कोविड़-19 के महामारी ने पिछले कुछ महीनों में हमारे जीवन में कई बड़े बदलाव लाए हैं। इस महामारी को काबू में रखने और इससे लड़ने के लिए लगाए गए लॉकडॉउन जैसे तरीकों से अर्थव्यवस्था पर असर पड़ा हैं। इसके कारण कई लोगो के जीवनयापन का तरीका प्रभावित हुआ हैं, जिसका गहरा असर उनकी खाद्य सुरक्षा पर पड़ा हैं। वंचित वर्ग के लोग इससे खास तौर पर प्रभावित हुए हैं।

ऐसे ही लोगों की अन्न आपूर्ति और उनकी खाद्य सुरक्षा को बनाए रखने के लिए भारत सरकार के उपभोक्ता मामले एवं सार्वजनिक वितरण मंत्रालय मंत्रालय ने प्रधान मंत्री ग्रामीण कल्याण अन्न योजना को 5 महीने के लिए यानी नवंबर 2020 तक बढ़ा दिया हैं। मंत्रालय के खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण विभाग के आदेश के अनुसार अब इस योजना के जरिए राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 के अन्तर्गत सम्मिलित किए गए लाभार्थियों को प्रति माह प्रति व्यक्ति 5 किलोग्राम गेहूं या चावल उपलब्ध कराया जा रहा हैं। यह हर महीने दी जाने वाली मात्रा के अतिरिक्त हैं और इसका फायदा लक्षित सार्वजनिक वितरण प्रणाली के सभी लाभार्थियों को मिलेगा जिनमें अंत्योदय अन्ना योजना, पीएचएच राशन कार्ड धारक और प्रत्यक्ष लभ अंतरण (direct benefit transfer) के लाभार्थी शामिल है।

मेरा आप सभी से निवेदन हैं कि अगर आप इस योजना के लिए योग्य हो तो इसका लाभ उठाए और अपने आस पास के लोगों को भी सूचित करे। 

धन्यवाद।


 Share